मुख्य कार्यकारी

प्रदीप मुखर्जी 1 अगस्त 2019 से ब्रिट के मुख्य कार्यकारी का पद संभाल रहे हैं ।

Pradip Mukherjee प्रदीप मुखर्जी

श्री प्रदीप मुख़र्जी पश्चिम बंगाल स्थित भारतीय इंजीनियरिंग विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संस्थान IIEST, (पूर्वकाल में बंगाल इंजीनियरिंग महाविद्यालय) के सन 1987 के मैकेनिकल इंजीनियरिंग स्नातक हैं। । सन 1988 में भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र प्रशिक्षण विद्यालय के 31वें बैच से नाभिकीय इंजीनियर प्रशिक्षण पूर्ण करने के पश्चात श्री मुख़र्जी भा. प. अ. के. के रिएक्टर प्रोजेक्ट्स ग्रुप से जुड़ गए।

अपने कार्यकाल के प्रारंभिक दो दशकों के दौरान श्री मुखर्जी कलपक्कम, तमिल नाडु में प्रॉपल्सन रिएक्टर्स के डिजाइन, निर्माण एवं कमिशनन से संबद्ध रहे। इस संयंत्र के सफल कमिशनन के पश्चात 2008 से भा. प. अ. के.  के रिएक्टर ग्रुप में अप्सरा -यू रिएक्टर के प्रोजेक्ट मैनेजर के रूप में भी कार्यरत रहे।

श्री मुखर्जी के नेतृत्व में अप्सरा-यू रिएक्टर के प्रथम कंक्रीट डालने के मात्र 44 महीने के भीतर ही इसे क्रिटिकल कर लिया गया। सन 2107 में उन्हें भा. प. अ. के. के रिसर्च रिएक्टर डिज़ाइन एवं प्रोजेक्ट्स  विभाग (RRDPD) का विभाग-अध्यक्ष बनाया गया। इसके अतिरिक्त उन्होंने ए टी डी एस प्रभाग के स्वतंत्र प्रभाग अध्यक्ष के पद पर भी अपना योगदान दिया और ब्रिट के उप-मुख्य कार्यकारी भी रहे।

RRDPD अध्यक्ष की भूमिका में अप्सरा-यू रिएक्टर के निर्माण के अतिरिक्त उन्होंने आंध्र प्रदेश के विशाखापटनम में निर्माणाधीन उच्च फ्लक्स रिसर्च रिएक्टर के डिज़ाइन हेतु इंजीनियरिंग टीम का नेतृत्व भी किया और फ्रांस के JHR रिएक्टर में corrosion लूप डिज़ाइन और निर्माण मे भी नेतृत्व प्रदान किया ।

श्री मुखर्जी फ्रांस स्थित अंतर्राष्ट्रीय सहयोग द्वारा फ्यूज़न प्रौद्योगिकी पर विकसित और निर्माणाधीन आईटर (ITER) प्रोग्राम की प्रबंधन सलाहकारिता समिति (MAC) के सदस्य भी रह चुके हैं।

एवार्ड एवं सम्मान

ग्रुप उपलब्धि एवार्ड :

प्रमुख प्रपत्र

समाचार : प्रदीप मुखर्जी 1 अगस्त 2019 से ब्रिट के मुख्य कार्यकारी का पद संभाल रहे हैं ।

Updated: Saturday September 21, 2019 18:54